खास खबरें प्रत्याशी एवं मकान मालिक की सहमति से ही झंडे बैनर लगाये जायें, कानून सबके लिये समान पीएम मोदी ने की ट्विटर के सीईओ से मुलाकात, ट्विटर की तारीफ में बोले ये... पाकिस्‍तान : 18 दिन से लापता पेशावर के एसपी का शव अफगानिस्‍तान में मिला महिला टी-20 वर्ल्ड कप : भारत का आज आयरलैंड से मुकाबला, सेमीफाइनल में जगह बनाने खेलेगा भारत अमित शाह का राहुल गांधी पर तंज, सिर्फ मोदी जी की बात कर अपना प्रचार कर रहे है या भाजपा का रणवीर की दुल्‍हन बनी दीपिका की फोटो हुई वायरल निफ्टी 10600 के करीब, सेंसेक्स 35200 के पार पीएम मोदी-राहुल गांधी 16 नवम्‍बर को मध्‍यप्रदेश के एक ही जिले करेगें रैलियां फडणवीस को मिली थोड़ी राहत, मराठा आरक्षण के लिए रास्‍ता साफ गोपाष्‍टमी : गाय की पूजा से प्रसन्‍न होते है सभी देवता, मिलती है सुख-समृद्धि

स्मार्ट सिटी की रैकिंग में उज्जैन देश में 11वें स्थान पर पहुंचा, 80 फीसदी काम किए पूरे

स्मार्ट सिटी की रैकिंग में उज्जैन देश में 11वें स्थान पर पहुंचा, 80 फीसदी काम किए पूरे

Post By : Dastak Admin on 09-Sep-2018 09:33:24

बड़ी खबर

Ujjain @ 100 स्मार्ट सिटी शहरों की रैंकिंग में उज्जैन 11वें नंबर पर आ गया है। एक हफ्ते पहले तक उज्जैन की रैंक 31वीं थी। केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा हर हफ्ते जारी होने वाली रैंकिंग में उज्जैन को यह सफलता महाकाल-रूद्रसागर विकास योजना की शुरुआत करने से मिली है।

       यह रैंक 1000 करोड़ रुपए के कामों के टारगेट के विरुद्ध 800 करोड़ के काम करने के आधार पर तय हुई है। उज्जैन स्मार्ट सिटी के सीईओ अवधेश शर्मा के अनुसार कंपनी ने टारगेट का 80 प्रतिशत काम पूरा कर लिया है। कंपनी के 800 करोड़ के काम चालू हो गए हैं। इनमें से हेल्थ कियोस्क, मोबाइल चार्जर, शी-लाउंज, वाटर एटीएम, बाइक शेयरिंग प्रोजेक्ट पूरे हो गए हैं। साइकिल ट्रैक, स्वीमिंग पूल, चौराहा सौंदर्यीकरण, कन्वेंशन सेंटर, स्मार्ट क्लास रूम, स्मार्ट डक्ट की टेंडर प्रक्रिया पूरी होकर काम चालू हो गए हैं। महाकाल-रूद्रसागर विकास योजना के सभी टेंडर निकल गए हैं। देवासगेट पर मल्टी मॉडल बस टर्मिनल के लिए भी प्रस्ताव आमंत्रित किए हैं। इन योजनाओं के चालू हो जाने से उज्जैन का ग्राफ तय टारगेट के 80 प्रतिशत पर पहुंच गया है। इस कारण जारी रैंकिंग में उज्जैन 11वें नंबर पर आ गया। मप्र के स्मार्ट सिटी शहरो में भोपाल पांचवें और इंदौर 13वें नंबर पर है। यानी भोपाल, उज्जैन से आगे और इंदौर पीछे है। सागर 21वें, जबलपुर 33, ग्वालियर 36 और सतना 40वें नंबर पर है।

Tags: बड़ी खबर

Post your comment
Name
Email
Comment
 

खास खबर

विविध