खास खबरें देर रात उज्जैन से गुजरे कालवी, करणी सेना ने किया स्वागत मध्‍यप्रदेश में आज सियासत के लिए तूफानी प्रचार, पीएम मोदी, अमित शाह, राहुल गांधी की अलग-अलग शहरों में होगी रैलियां मानव तस्‍करी की पीड़ा झेल चुके पीडि़तों को एपल देगा नौकरी महिला वर्ल्ड टी-20 : भारत ने आयरलैंड को हरा सेमीफाइनल में बनाई जगह कमलनाथ ने लिखी विकास के नाम चिट्ठी, पूछा 'तुम कहां हो ?' बिग बी अमिताभ बच्‍चन ने दी पोती आराध्‍या को जन्‍मदिन की बधाईयॉं सेंसेक्स 100 अंक मजबूत, निफ्टी 10640 के पास 'रात-दिन मोदी-मोदी, कांग्रेस और राहुल को हुआ मोदी फोबिया' - अमित शाह राजस्‍थान : कांग्रेस की पहली सूची से नाराज कांग्रेसियों ने राहुल गांधी के घर के बाहर जमाया ढेरा, पैसे लेकर टिकट बांटने का आरोप गोपाष्‍टमी : गाय की पूजा से प्रसन्‍न होते है सभी देवता, मिलती है सुख-समृद्धि

नेताओं ने समिति से कहा- कोटे में किसी को निपटाया नहीं जाए

नेताओं ने समिति से कहा- कोटे में किसी को निपटाया नहीं जाए

Post By : Dastak Admin on 11-Sep-2018 15:03:35

Leaders ,quota

भोपाल। विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस में बनी समन्वय समिति के सामने सोमवार को पेश हुए नेताओं में से कुछ ने कहा कि भोपाल में चलने वाले कोटे में किसी को निपटाया नहीं जाए। समिति ने अधिकांश नेताओं से यह सुझाव मांगा कि विधानसभा चुनाव में कैसे मिलकर लड़ा जाए, जिससे ज्यादा प्रत्याशियों की जीत हो सके।
समन्वय समिति के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के साथ पूर्व सांसद सत्यव्रत चतुर्वेदी व रामेश्वर नीखरा, पूर्व महापौर विभा पटेल व सुनील सूद ने शाम चार बजे भोपाल के नेताओं से मुलाकात का सिलसिला शुरू किया। पूर्व सांसद सुरेंद्र सिंह ठाकुर से चर्चा की शुरुआत हुई। पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने भी समिति से रात को मुलाकात की। 60 से ज्यादा नेताओं की मुलाकात निर्धारित थी, जिनमें से विधायक आरिफ अकील ने रविवार रात को ही सिंह से बात कर ली थी। उधर, समिति की बैठक सोमवार देर रात तक चलती रही।
दावेदारों से पूछे जीत के आधार

सूत्रों के मुताबिक समन्वय समिति ने दावेदारों से उनकी जीत के आधार पूछे। भोपाल मध्य, नरेला, हुजूर जैसी सीटों के दावेदारों से समिति ने यह सवाल किए थे। गुटों में बंटी कांग्रेस को लेकर समिति ने कुछ नेताओं से यह सवाल भी किया कि क्या किया जाए कि सभी लोग साथ मिलकर चुनाव लड़ें या लड़वाएं। इसके जवाब में लोगों ने कहा कि बड़े नेता अपना अहम छोड़कर साथ में उतर जाएं। जिसे टिकट मिले उसके लिए काम करें।
दिग्विजय अब कैलास मानसरोवर यात्रा करेंगे

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने नर्मदा परिक्रमा करने के बाद अब कैलास मानसरोवर यात्रा करने का विचार किया है। सिंह ने सोमवार को ट्वीट में यह बात कही है। उन्होंने कहा है कि वे अगले साल यह यात्रा करेंगे। गौरतलब है कि हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कैलाश मानसरोवर यात्रा कर लौटे हैं। वहीं, दिग्विजय सिंह ने सितंबर 2017 से अप्रैल 2018 तक नर्मदा परिक्रमा की थी।

Tags: Leaders ,quota

Post your comment
Name
Email
Comment
 

भोपाल संभाग

विविध