खास खबरें पिछड़ा वर्ग पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति आवेदन की अंतिम तिथि 31 मार्च पीएम मोदी आज वाराणसी में करेंगे 15वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्‍मेलन का उद्घाटन पाकिस्‍तान : तेल टैंकर और बस में भीषण टक्‍कर में हुई 26 लोगों की मौत, 16 घायल कल नेपियर में खेला जाएगा भारत-न्यूजीलैंड के बीच पहला वनडे मैच 2019 में फिर सत्‍ता में आएंगी भाजपा : राजनाथ सिंह ड्राइवर कर रहा था निजी जानकरियां लीक, मलाइका ने नौकरी से निकाला सेंसेक्स 140 अंक टूटा, निफ्टी 10915 के आसपास मध्‍यप्रदेश में फंड की कमी से नहीं मिला लाखों कर्मचारियों को महंगाई भत्‍ता दिल्ली-NCR में बिन मौसम बारिश के साथ पड़े ओले, पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी शुरू हुआ पवित्र माघ का महीना, इस तरह करें अपनी मनोकामना पूरी

किसानों से ठगी करने वाले 2 सहायक समिति प्रबंधक और सर्वेयर गिरफ्तार

किसानों से ठगी करने वाले 2 सहायक समिति प्रबंधक और सर्वेयर गिरफ्तार

Post By : Dastak Admin on 16-Jan-2019 22:22:30

fraud, krishi rin

 

टीकमगढ़ | लंबे समय से उड़द खरीदी में किसानों से ठगी कर रहे तीन कर्मचारियों को रविवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शिकायत के बाद कलेक्टर ने अधिकारियों की टीम गठित करके गोर खरीदी केन्द्र पर छापा मारा। मंडी से सर्वेयर अतुल मिश्रा के पास से नकदी बरामद की गई थी। इस ठगी में दो सहायक समिति प्रबंधक भी शामिल थे। जिन्हें रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया। 
      मोहनगढ़ की गोर मंडी में किसानों के माल को बेचने पर रिश्वत ली जा रही थी। शिकायत मिलने पर दो दिन पहले कलेक्टर के निर्देशन में अधिकारियों ने गोर मंडी में औचक निरीक्षण किया। मंडी में सर्वेयर अतुल मिश्रा के पास से 27 हजार रूपये की नकदी बरामद की गई थी। अधिकारियों ने सर्वेयर को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया था। पूछताछ में किसानों से ठगी के कार्य में दो सहायक समिति प्रबंधक का भी हाथ बताया था। जिस पर पुलिस ने सर्वेयर अतुल मिश्रा, सहायक समिति प्रबंधक लोकपाल सिंह और रामप्रकाश दांगी पर मामला दर्ज किया। दोनों समिति प्रबंधक फरार चल रहे थे। जिसे मोहनगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शासन ने दोनों समिति प्रबंधक को निलंबित कर दिया है। दोनों व्यक्तियों का मूल पद सेल्समैन का है। जिन्हें मंडी सहायक समिति प्रबंधक का प्रभार दिया गया था। ऐसे में समर्थन मूल्य की खरीदी शुरू होते की किसानों से माल बेचने के एवज में रिश्वत लेने लगे थे।

Tags: fraud, krishi rin

Post your comment
Name
Email
Comment
 

टीकमगढ़

विविध