खास खबरें ग्रुप डिस्कशन और सेमिनार से बता रहे भोजन में सब्जियां लें, जंकफूड न खाए 2025 तक इंसानों से ज्यादा काम करेंगी मशीनें : वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम माता-पिता की इस लत के खिलाफ बच्‍चों ने सड़कों पर किया विरोध प्रदर्शन क्रिकेट टीम कप्तान विराट कोहली और वेटलिफ्टर मीराबाई चानू को राजीव गांधी खेल रत्न देने की सिफारिश अजय माकन ने दिया दिल्‍ली कांग्रेस के अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा कैंसर के मुश्किल जंग जीतने के बाद 46 की उम्र में लीजा बनी जुड़वा बेटियों की मॉं सेंसेक्स 37650 के करीब, निफ्टी 11400 के ऊपर कर्तव्यों का निर्वहन सिखाते हैं विश्वविद्यालय : राज्यपाल श्रीमती पटेल रेवाड़ी गैंगरेप : मुख्‍य आरोपी निशु पहले भी कर चुका है ऐसी वारदात चौथे दिन उत्तम शौच धर्म की पूजा के साथ, अपनी वाणी को अपने मन को अपने कर्मों को उत्तम बनाना ही शौच धर्म है

मध्यप्रदेश के समाधान एक दिन नवाचार की सराहना, गुड गर्वनेन्स पर भारत सरकार का क्षेत्रीय सम्मेलन सम्पन्न

Post By : Dastak Admin on 12-Sep-2018 21:29:53

good governess workshop

 

    उज्जैन । मुख्य सचिव श्री बसंत प्रताप सिंह ने कहा है कि शासकीय सेवाओं के लोक सेवा प्रबंधन की परिधि में आने से प्रकरणों के समय सीमा में निराकरण की सख्याँ मे अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। इससे जनसामान्य में शासकीय प्रणालियों के प्रति विश्वास बढ़ा है और लोग सुशासन के भाव का अनुभव कर रहे हैं। श्री सिंह भोपाल में गुड गर्वनेन्स पर आयोजित भारत सरकार के क्षेत्रीय सम्मेलन के समापन सत्र को सम्बोधित कर रहे थे। शिक्षा, कृषि और नागरिक केन्द्रित सेवाओं पर आधारित दो दिवसीय क्षेत्रीय सम्मेलन में राजस्थान, बिहार, छत्तीसगढ़, गुजरात, पंजाब, मध्यप्रदेश, उड़ीसा, झारखण्ड, मेघालय, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा के प्रतिनिधि मण्डल ने भाग लिया। नीति आयोग के सलाहकार श्री राकेश रंजन ने आकांक्षी जिलों में बदलाव पर प्रस्तुतिकरण दिया। सम्मेलन के दूसरे दिन स्लम फ्री सिटी चंडीगढ़, मध्यप्रदेश के पंच-सरपंच पोर्टल तथा उड़ीसा में विद्यार्थियों के ऑनलाईन एप्लीकेशन की प्रक्रिया का प्रस्तुतिकरण दिया गया।

425 सेवाएँ नोटीफाय

    समापन अवसर पर मुख्य सचिव श्री बसंत प्रताप सिंह ने बताया कि वर्ष 2010 में लोक सेवा गारंटी का प्रदाय अधिनियम लाने वाला देश का पहला राज्य मध्यप्रदेश था। अधिनियम के सुचारू संचालन के लिये एक पृथक विभाग की स्थापना की गई। अब तक अधिनियम के अन्तर्गत 425 से अधिक सेवाएँ नोटीफाय की जा चुकी हैं। जिनमें 250 से अधिक पूरी तरह ऑनलाईन हैं। श्री सिंह ने बताया की प्रदेश में तहसील और विकासखण्ड मुख्यालयों पर 412 लोक सेवा केन्द्र और एमपी ऑन लाईन के 13 हजार से अधिक कियोस्क कार्यरत है। हाल ही में आरंभ "समाधान एक दिन" काउंटर से  4 महिने में 28 लाख से अधिक आवेदनों का निराकरण किया जा चुका है।

“समाधान एक दिन” की सराहना

    जनता से सीधे जुड़ने और उनकी समस्याओं के त्वरित समाधान के लिये परख, समाधान ऑन लाईन, सी.एम. हेल्प लाईन जैसे नवाचार आरंभ किये गये हैं। श्री सिंह ने कहा की भारत सरकार द्वारा सुशासन के संबंध में विभिन्न प्रदेशों के बीच अपने अनुभव साझा करने के लिये आयोजित क्षेत्रीय सम्मेलन ने राज्यों को सीखने के नये अवसर प्रदान किये है। सम्मेलन को भारत सरकार के सचिव श्री के.व्ही.ईपम ने भी सम्बोधित किया। श्री ईपम ने मध्यप्रदेश की योजना समाधान एक दिन की सराहना करते हुए कहा कि विभिन्न राज्य में हुए नवाचारों का व्यापक स्तर पर क्रियान्वयन होने से ही इस प्रकार के सम्मेलनों की सार्थकता सिद्ध होगी।

 

अपनी जानकारी दे

नाम
ई-मेल
मोबाइल
फोटो

आपके समाचार

शब्द प्रारूप और पाठ प्रारूप में समाचार फ़ाइल

Subscribe Newsletter




आपका वोट

किसानों ने बैंको से ऋण ले रखा था किंतु अब वे उसे चुका नही पा रहे हैं। क्या किसानों के बैंक ऋण सरकार को माफ करना चाहिए ?
हां
88%
ujjain poll
नहीं
10%
पता नहीं
1%
सर्वेक्षण

अपना राशिफल देखें

मेष वृषभ मिथुन कर्क सिंह कन्या तुला वृश्चिक धनु मकर कुंभ मीन
मेष

ज्ञान विज्ञान के क्षेत्र में बढ़ोतरी होगी। विद्यार्थियों को अधिक परिश्रम की आवश्‍यकता रहेगी। मित्र मददगार साबित होंगे। सामाजिक क्षेत्र में वर्चस्‍व बढ़ेगा। ईश्‍वर के प्रति आस्‍था बढ़ेगी।

महाकाल आरती समय

dastak news ujjain

  महाकाल आरती समय

आरती

चैत्र से आश्विन तक

कार्तिक कृष्ण प्रतिपदा से फाल्गुन पूर्णिमा तक

भस्मार्ती

प्रात: 4 बजे श्रावण मास में प्रात: 3 बजे

प्रातः 4 से 6 बजे तक।

दध्योदन

प्रात: 7 से 7:45 तक

प्रात: 7:30 से 8:15 तक

महाभोग

प्रात: 10 से 10:45 तक

प्रात: 10:30 से 11:15 तक

सांध्य

संध्या 5 से 5:45 तक

संध्या 5 से 5:45 बजे तक

सांध्य

संध्या 7 से 7:45 तक

संध्या 6:30 से 7:15 तक

शयन

रात्रि 10:30 बजे

रात्रि 10:30 से 11 बजे तक

आज का विचार

    “सामने पर कड़वा बोलने वाले लोग कभी धोखा नहीं देते। डरना तो मीठा बोलने वालों से चाहिए जो दिल में नफरत पालते है और समय के साथ बदल जाते है।” - अज्ञात

उज्जैन सिनेमा

     

उज्जैन मानचित्र

पंचक्रोशी यात्रा मानचित्र

विविध