खास खबरें प्रत्याशी एवं मकान मालिक की सहमति से ही झंडे बैनर लगाये जायें, कानून सबके लिये समान पीएम मोदी ने की ट्विटर के सीईओ से मुलाकात, ट्विटर की तारीफ में बोले ये... पाकिस्‍तान : 18 दिन से लापता पेशावर के एसपी का शव अफगानिस्‍तान में मिला महिला टी-20 वर्ल्ड कप : भारत का आज आयरलैंड से मुकाबला, सेमीफाइनल में जगह बनाने खेलेगा भारत अमित शाह का राहुल गांधी पर तंज, सिर्फ मोदी जी की बात कर अपना प्रचार कर रहे है या भाजपा का रणवीर की दुल्‍हन बनी दीपिका की फोटो हुई वायरल निफ्टी 10600 के करीब, सेंसेक्स 35200 के पार पीएम मोदी-राहुल गांधी 16 नवम्‍बर को मध्‍यप्रदेश के एक ही जिले करेगें रैलियां फडणवीस को मिली थोड़ी राहत, मराठा आरक्षण के लिए रास्‍ता साफ गोपाष्‍टमी : गाय की पूजा से प्रसन्‍न होते है सभी देवता, मिलती है सुख-समृद्धि

एक परिसर एक शाला के क्रियान्वयन के लिए जिला स्तरीय समिति का गठन

Post By : Dastak Admin on 12-Sep-2018 21:30:38

एक परिसर एक शाला

 

गठन की कार्यवाही एक अक्टूबर तक होगी पूरी

उज्जैन । प्रदेश में विभिन्न स्तर और समान स्तर की शालाओं को एक करते हुए एक शाला के रूप में संचालित किये जाने का निर्णय लिया गया है। ऐसी शालाएँ एक परिसर-एक शाला के रूप में संचालित होंगी। एक परिसर-एक शाला के क्रियान्वयन के लिए जिला स्तरीय समिति के गठन किये जाने के निर्देश स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जिला कलेक्टर्स को दिये गये हैं।

जिला स्तरीय समिति कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित होगी। समिति में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण, प्राचार्य डाईट और जिला परियोजना समन्वय को शामिल किया गया है। समिति निश्चित समय-सारणी के अनुसार कार्य करेंगी। एकीकृत शाला के लिए स्टॉफ कक्ष और भण्डार कक्ष की व्यवस्था 20 सितम्बर तक की जायेगी। एकीकृत शाला की प्रबंध परिषद की साधारण सभा कार्यकारिणी का गठन 28 सितम्बर तक, प्रबंध परिसर की साधारण सभा की पहली बैठक 29 सितम्बर और एकीकृत बैंक खाते की व्यवस्था एक अक्टूबर तक किये जाने के निर्देश दिये गये हैं।

प्रदेश में एक परिसर-एक शाला के क्रियान्वयन से मानव एवं भौतिक संसाधनों का अधिकतर उपयोग हो सकेगा। इसके साथ ही शिक्षकों की आवश्यकता में भी कमी आयेगी और व्यय पर नियंत्रण हो सकेगा। प्रदेश में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा 224 विकासखण्डों में संचालित 34 हजार 997 स्कूलों को एकीकृत करने पर एकीकृत स्कूलों की संख्या 15 हजार 961 हो जायेगी। एकीकृत स्कूलों में से 11 हजार 894 स्कूलों का प्राथमिक से माध्यमिक तक, 1378 स्कूलों का प्राथमिक से लेकर हाईस्कूल तक और 784 स्कूलों का कक्षा पहली से लेकर कक्षा 12वीं तक एकीकृत किया जायेगा। शाला परिसर में वर्तमान में कोई शाला किसी महापुरूष के नाम से संचालित है तो एकीकृत शाला का नामकरण उन्हीं के नाम पर रखे जाने के निर्देश दिये गये है।

 

अपनी जानकारी दे

नाम
ई-मेल
मोबाइल
फोटो

आपके समाचार

शब्द प्रारूप और पाठ प्रारूप में समाचार फ़ाइल

Subscribe Newsletter




आपका वोट

म. प्र में विधानसभा के चुनाव होने जा रहे है। क्या भाजपा की सरकार वापस आयेगी ?
हां
46%
ujjain poll
नहीं
54%
पता नहीं
सर्वेक्षण

अपना राशिफल देखें

मेष वृषभ मिथुन कर्क सिंह कन्या तुला वृश्चिक धनु मकर कुंभ मीन
मेष

वाद विवाद से संभवत : दूर रहने की चेष्‍टा करें। काम में उतावलापन दिखाने से बचें। विद्यार्थियों का मन पढ़ाई से भटक सकता है। व्‍यापार व नौकरी में अनुकूल स्थितियां रहेंगी। रुका धन मिल सकता है।

महाकाल आरती समय

dastak news ujjain

  महाकाल आरती समय

आरती

चैत्र से आश्विन तक

कार्तिक कृष्ण प्रतिपदा से फाल्गुन पूर्णिमा तक

भस्मार्ती

प्रात: 4 बजे श्रावण मास में प्रात: 3 बजे

प्रातः 4 से 6 बजे तक।

दध्योदन

प्रात: 7 से 7:45 तक

प्रात: 7:30 से 8:15 तक

महाभोग

प्रात: 10 से 10:45 तक

प्रात: 10:30 से 11:15 तक

सांध्य

संध्या 5 से 5:45 तक

संध्या 5 से 5:45 बजे तक

सांध्य

संध्या 7 से 7:45 तक

संध्या 6:30 से 7:15 तक

शयन

रात्रि 10:30 बजे

रात्रि 10:30 से 11 बजे तक

आज का विचार

    हमारे अंदर सबसे बड़ी कमी यह है कि हम चीजों के बारे में बात ज्‍यादा करते हैं और काम कम। - जवाहरलाल नेहरू

उज्जैन सिनेमा

     

उज्जैन मानचित्र

पंचक्रोशी यात्रा मानचित्र

विविध